रविवार, अक्तूबर 16, 2011

मैं और मेरी ग़ज़लें ......




डॉ. हरीसिंह गौर केन्द्रीय विश्वविद्यालय, सागर, मध्यप्रदेश के हिन्दी भाषा विभाग में दिनांक 10.10.2011 को ‘समकालीन हिन्दी ग़ज़लः समय और संभावनाएं’ विषय पर आयोजित परिचर्चा और ग़ज़लपाठ के अवसर पर अपनी ग़ज़लों का पाठ करती मैं स्वयं.....




48 टिप्‍पणियां:

  1. bahut achchha laga aapko sunna, abhi tak aapki rachnayen padi thin aaj sun bhi li , hamari taraf se bahut bahut badhai,

    उत्तर देंहटाएं
  2. बहुत अच्छा लगा……………बधाइयाँ।

    उत्तर देंहटाएं
  3. बहुत ख़ूबसूरत गज़ल..बहुत सुन्दर प्रस्तुतीकरण..

    उत्तर देंहटाएं
  4. बहुत सुन्‍दर गज़लों की प्रस्‍तुति, धन्‍यवाद.

    उत्तर देंहटाएं
  5. aaderniya varshaji..aaj to maine aapki dher sari ghazlein padhi..aap itne chote meter mein hamesha itni badi baatein kah jaati hain jinka koi jabab nahi hota..sagar ke pharmacy department se mera bhi rista raha hai..aap bhi usi vishwavidyalaya ki alumni hain isliye behad khushi hui jab aapke hindi department me ghazal path karte hue photographs dekhe..aapko hardik badhayee aaur amantran ke sath

    उत्तर देंहटाएं
  6. baki comments padhne ke baad maloom hua ki iska vedeo clip bhi hai..barshon pahle aapko samne baith kar suna tha..aaj purani yaad taja ho gayi..behtarin prastuti

    उत्तर देंहटाएं



  7. आदरणीया वर्षा सिंह जी
    नमस्कार !

    आपको ग़ज़ल पढ़ते हुए सुनना अच्छा लगा …
    लेकिन साथ ही पढ़ी गई ग़ज़ल को लिखित रूप में भी पोस्ट पर डालना चाहिए था …

    सच कहूं तो , कई जगह लफ़्ज़ों को समझना मुश्किल लगा
    हां , आपको सुनने का आनंद तो मिला …
    :)

    त्यौंहारों के इस सीजन सहित
    आपको सपरिवार
    दीपावली की अग्रिम बधाइयां !
    शुभकामनाएं !
    मंगलकामनाएं !

    -राजेन्द्र स्वर्णकार

    उत्तर देंहटाएं
  8. सुनने में बहुत आनन्द आया...आभार विडिओ प्रस्तुत करने का.

    उत्तर देंहटाएं
  9. बधाई स्वीकारें !
    कृपया इन्हें पढ़ने के लिए भी जरूर लिखें |
    शुभकामनायें!

    उत्तर देंहटाएं
  10. बेहतरीन प्रस्तुति ... अच्छा लगा आपको सुनना ...

    उत्तर देंहटाएं
  11. अच्छी गजलें...
    आपको सुनना अच्छा लगा …
    बधाइयाँ...

    उत्तर देंहटाएं
  12. वर्षा जी आपकी ग़ज़लें और उन का प्रस्तुति करण दोनों लाजवाब हैं...बधाई स्वीकारें

    नीरज

    उत्तर देंहटाएं
  13. आपकी आवाज़ पहली बार आज इस विडिओ क्लिपिंग में सुनी.
    बहुत अच्छा लगा.ग़ज़लें भी अच्छी लगीं.

    उत्तर देंहटाएं
  14. समा बाँध दिया आपने ... आवाज़ सुनना गज़ल के साथ ... मज़ा आ गया ...

    उत्तर देंहटाएं
  15. आप तक बहुत दिनों के बाद आ सका हूँ,

    उत्तर देंहटाएं
  16. बहुत सुन्‍दर गज़लों की प्रस्‍तुति, बधाई स्वीकारें.

    उत्तर देंहटाएं
  17. Say thank you you looking for another extraordinary article. Where else could anybody suffer from that kind of intelligence in such a gargantuan path of writing.

    In a Hindi saying, If people call you stupid, they will say, does not open your mouth and prove it. But several people who make extraordinary efforts to prove that he is stupid.Take a look here How True

    उत्तर देंहटाएं
  18. बेटी बचाओ - दीवाली मनाओ.
    दीपावली की हार्दिक शुभकामनायें.

    उत्तर देंहटाएं
  19. इतना ही कहूँगा की शानदार गजलें और उतनी ही उम्दा प्रस्तुति....
    आपको दीपोत्सव की शुभकामनाएं

    उत्तर देंहटाएं
  20. पञ्च दिवसीय दीपोत्सव पर आप को हार्दिक शुभकामनाएं ! ईश्वर आपको और आपके कुटुंब को संपन्न व स्वस्थ रखें !
    ***************************************************

    "आइये प्रदुषण मुक्त दिवाली मनाएं, पटाखे ना चलायें"

    उत्तर देंहटाएं
  21. आपको और आपके प्रियजनों को दीपावली की हार्दिक शुभकामनायें….!

    संजय भास्कर
    आदत....मुस्कुराने की
    नई पोस्ट पर आपका स्वागत है
    http://sanjaybhaskar.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं
  22. दीपावली की हार्दिक शुभकामनायें!

    उत्तर देंहटाएं
  23. वर्षा जी, आपके सभी मित्रों व परिजनों के साथ ही आपको भी ज्योति-पर्व पर अनंत मंगलकामनायें!

    उत्तर देंहटाएं
  24. दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएँ.

    उत्तर देंहटाएं
  25. बेहतरीन अंदाज़ और खूबसूरत अलफ़ाज़ !
    मेरी ओर से कृपया शुभकामनायें स्वीकार करें
    मेरी तरफ से आपको दीपावली तथा भैयादूज पर्व की हार्दिक शुभकामनाएँ!!!

    उत्तर देंहटाएं
  26. वर्षा जी आपकी ग़ज़लें और उन की प्रस्तुति और खूबसूरत अंदाज़ बहुत अच्छा लगा ..बधाई..

    उत्तर देंहटाएं
  27. बहुत सुंदर प्रस्तुति .. बधाई स्वीकारें ।

    उत्तर देंहटाएं
  28. वर्षा जी ..आपकी गजलें और उनकी प्रस्तुति का बेहद खूबसूरत अंदाज अत्यंत ही मनभावन है....आपको हार्दिक बधाईयां एवं शुभ कामनायें !!!

    उत्तर देंहटाएं
  29. abhi apka kment box aapki jvabi tipaniyo ki bhid ke bina achcha lag raha he.
    tipanni badhanai k chakkar me sabko alg jvab dena bhut bhadda/bachkana lagata hai. sbko ek sath dhanyavaad diya kare.

    उत्तर देंहटाएं
  30. बधाई स्वीकार करे। सुन्दर गजलें ।

    उत्तर देंहटाएं
  31. आप की ओर से कुछ नया पढ़ने को नही मिल रहा ....सब ठीक?
    सब कुछ अच्छे के लिए ...
    शुभकामनाएँ!

    उत्तर देंहटाएं
  32. बधाई इस अप्रतिम प्रस्तुति के लिए .

    उत्तर देंहटाएं
  33. it was amazing listening to ur gazals in ur madhur awaz.................

    उत्तर देंहटाएं
  34. it was amazing listening to ur gazals in ur madhur awaz.................

    उत्तर देंहटाएं
  35. काव्य यात्रा के लिए आभार डॉ. वर्षासिंह जी

    उत्तर देंहटाएं
  36. माननीय वर्षा सिंह जी
    नमस्कार
    नव वर्ष के उपलक्ष में आप द्वारा लिखी नव वर्ष की कोई सुन्दर सी कविता को मैं मंडी हिमाचल से प्रकाशित होने वाले साप्ताहिक समाचार पत्र "अमर ज्वाला " में प्रकाशित करना चाहता हूँ. कृपया अपनी रचना, अपना चित्र ( ऐच्छिक ) व परिचय और समाचार की प्रति डाक द्वारा प्राप्त करने के लिए अपना पता भी मुझे मेल करें.
    इसके अतिरिक्त भविष्य में भी आप द्वारा लिखी कवितायों और गजलों का मेरे समाचार पत्र में प्रकाशन के लिए स्वागत है.
    कृपया अपना ईमेल पता भेजें मई आप को समाचार पत्र के पिछले अंक का लिंक भेजूंगा, देख लीजियेगा.


    धन्यवाद !

    विनायक शर्मा
    sidhivinayak81@gmail.com
    संपादक, साप्ताहिक अमर जवाला
    मंडी, हिमाचल प्रदेश

    उत्तर देंहटाएं
  37. आप तथा आपके परिवार के लिए नववर्ष की हार्दिक मंगल कामनाएं
    आपके इस सुन्दर प्रविष्टि की चर्चा कल दिनांक 02-01-2012 को सोमवारीय चर्चा मंच पर भी होगी। सूचनार्थ

    उत्तर देंहटाएं
  38. जाने कहाँ गए वो मीत ,वो गीत ,वो ग़ज़लें .......ब्लॉग जगत में आपकी उपस्थिति प्रतीक्षित ....
    नया साल मुबारक ,साल के हर सुबह हर शाम मुबारक .

    उत्तर देंहटाएं
  39. प्रस्तुति अच्छी लगी । मेरे नए पोस्ट " जाके परदेशवा में भुलाई गईल राजा जी" पर आपके प्रतिक्रियाओं की आतुरता से प्रतीक्षा रहेगी । नव-वर्ष की मंगलमय एवं अशेष शुभकामनाओं के साथ ।

    उत्तर देंहटाएं